What is Web Hosting? IN Hindi |Types of Web Hosting| Web Hosting kya hai?

दोस्तों अगर आप अपनी एक वेबसाइट बनाना ने की सोच रहे या बनाने वाले है तो उसे पहले आपको वेब होस्टिंग (What is Web Hosting) के बारेमे पूरी जानकारी होनी जाहिए|तो इस पोस्ट में  हम जानेगे की web hosting क्या है|उसके कितने प्रकार है|वेब होस्टिंग कहासे खरदनी जाहिए अदि|

वेब होस्टिंग क्या है ? (What is Web Hosting?)

वेब होस्टिंग  इंटरनेट पर आपकी वेबसाइट का फिजिकल  स्थान है, जो एक ऑनलाइन स्टोरेज सेंटर है, जिसमें जानकारी, चित्र, वीडियो और अन्य सामग्री है जो आपकी वेबसाइट शामिल करती है।लिस  कंप्यूटर पे आपकी वेबसाइट के फाइल,विडियो.इमेज अदि  को स्टोर किया जाता उसे servers कहते है|

वेब होस्टिंग सेवा प्रोवाइडर  सर्वर को बनाए रखता है जहां आपकी वेबसाइट से जुड़ा डेटा रहता है, और आपकी वेबसाइट को इंटरनेट से कनेक्ट करने वाली तकनीक का मेनेज  भी करता है।

What is Domain Name what is Domain Naming System? in Hindi

वेब होस्टिंग के प्रकार (Types of Web Hosting)

Shared Hosting 

एक ही सर्वर में हरजो वेबसाइट को होस्ट किया जाया है उसे shared Hosting कहते है| मतलब की एक ही सर्वर पर होस्ट की गई वेबसाइटें अपने सभी संसाधनों जैसे मेमोरी, कंप्यूटिंग पावर, डिस्क स्पेस और अन्य को शेयर करती हैं।जोबी होस्टिंग प्रोवाइडर है वह एक होस्टिंग सर्वर बनता है और उसमे अलग अलग यूजर बनाके अलग अलग  लोगो देता है|

Shared Hosting  वेब होस्टिंग का सबसे आम प्रकार है और यह  छोटे व्यवसायों और ब्लॉगों के लिए एक अच्छा  समाधान है।

Shared Hosting के फायदे 

➡ यह बहुत सस्ता है इस  वजह से इस कोय भी खरीद सकता है|

:arrow:ब्लोगिंग या वेबसाइट  की शुरुआत के अनुकूल (विशिष्ट तकनीकी ज्ञान की कोई आवश्यकता नहीं)

:arrow:इस का कण्ट्रोल पेनल यूजर के अनुकूल है |

Shared Hosting के नुकसान 

➡ सर्वर कॉन्फ़िगरेशन पर थोड़ा या कोई नियंत्रण नहीं होता है |

➡ वेबसाइटों पर ट्रैफ़िक बढ़ने से आपकी साइट धीमी हो सकती है|

VPS Hosting

इसमें आपको एक  Dedicated  सर्वर मिलता है  जिसका लगभग पूरा कंट्रोल आपके पासा होता है| इसके resource शेयर नथी किये जाते| इस वर्चुअल प्राइवेट सर्वर  या Dedicated  होस्टिंग भी कहा जाता है |

VPS Hosting  के फायदे 

➡  वेबसाइटों पर ट्रैफ़िक बढ़ने का आपके प्रदर्शन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है|

➡ Root access to the server

 

VPS Hosting  के नुकसान 

➡ shared होस्टिंग की तुलना में अधिक महंगा है|

➡ तकनीकी और सर्वर management ज्ञान एक जरूरी है|

Cloud Hosting

क्लाउड होस्टिंग के साथ, आपका होस्ट आपको सर्वरों का एक समूह प्रदान करता है। आपकी फ़ाइलों और  resources को प्रत्येक सर्वर परare replicated  जाता है। जब कोई क्लाउड सर्वर व्यस्त होता है या कोई समस्या होती है, तो आपका ट्रैफ़िक स्वचालित रूप से क्लस्टर के किसी अन्य सर्वर पर रूट हो जाता है।

Cloud Hosting  के फायदे

➡ यह सर्वर downtime नहीं हो सकता|

➡ demand के अनुरास resources मित्लते है |

 

Cloud Hosting के नुकसान

➡ इसका cost बहुत है|

 

Linux vs  Windows

इस मामले की सच्चाई यह है कि ये दो वेब सर्वर प्लेटफ़ॉर्म कार्यात्मक रूप से समतुल्य हैं, यह सब इस बात पर निर्भर करता है कि आपकी होस्टिंग की ज़रूरतें क्या हैं और आप किस चीज़ के साथ बहुत सहज हैं।

Linux

PHP, पर्ल, पायथन और अन्य यूनिक्स-मूल भाषाओं में लिखी गई स्क्रिप्ट चलाने की अनुमति देता है। यह आमतौर पर MySQL और PostgreSQL डेटाबेस का सपोर्ट  करता है।

Windows

ASP स्क्रिप्ट चलाने और .NET और अन्य Microsoft तकनीकों का उपयोग करने की अनुमति देता है। यह Microsoft SQL सर्वर और एक्सेस डेटाबेस का सपोर्ट करता है|

यदि आपकी वेबसाइट को किसी भी स्क्रिप्टिंग सपोर्ट की आवश्यकता नहीं है, तो आपको लिनक्स होस्टिंग का चयन करना चाहिए क्योंकि वे अधिक किफायती हैं। हालाँकि, यदि आपकी वेबसाइट को स्क्रिप्टिंग और डेटाबेस सपोर्ट की आवश्यकता है, तो आपको उस प्लेटफ़ॉर्म को चुनना चाहिए जो आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली तकनीकों का सपोर्ट करता है।

Top web hostin  Provider List

  1. Bigrock
  2. GoDaddy
  3. Domain.com
  4. Name.com
  5. Namecheap
  6. HostGator.i

 

आपने क्या शिखा

दोस्तों हम उमीद करते है की वेब होस्टिंग के बारे में दियी गयी जानकारी  आपको पसन्द आययी  होगा|तो इस पोस्ट को लायिक लीजिये और कुछ भी सवाल   होतो कमेंट करके पूछ सकते है |

हामरे वेबसाइट की लेटेस्ट अपडेट के लिए हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब कीजिये और TELEGRAM GROUP में ज्वाइन  कीजिये| साथी साथ हमारे फेसबुक पेज को भी लायिक करे|

 

सोर्स 

 

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: