Hacking Tips knowledge

What Is Surface Web , Deep Web And Dark Web Explain In Hindi

दोस्तों आपने सरफेस ,डीप वेब और डार्क वेब ( Surface Web , Deep Web And Dark Web)के बारेमे सुनाही होगा| लिकिन क्या आपको पता सरफेस वेब,डीप वेब और डार्क वेब क्या होता हे ?

कोनसा वेब आप सर्फ करा सकते हे और कोनसा वेब सर्फ करना गेर क़ानूनी हे| अगर आप यह सब नहीं जानते तो इस पोस्ट को लास्ट पढ़ लीजिये आपको सब जानकारी मिल जाएगी|

सरफेस वेब

सरफेस वेब मतलब की जो वेबसाइट जो अम जनता के लिए उपलब्ध हो| सर्च इंजिन में सर्च करने मिल जाये| आप गूगल कुछ भी सर्च करते हे तो उसके बरमे जो वेबसाइट की लिस्ट आती हे वह  सब सर्फेस वेब हे|जिस वेबसाइट का पेज सर्च एंजिन में इंडेक्स होता हे वह सर्फेस वेब हे|

लेकिन दोस्तों क्या आप यह जानते हैं की ये सारा सरफेस वेब इन्टरनेट का सिर्फ 5% करीब है | एक  रिपोर्ट के हिसाब से करीब करीब 95% जो इंटरनेट है वो दीप वेब  के अंदर आता है |

डीप वेब

दोस्तों डीप वेब एक एसा इंटरनेट हे जेसे हम सर्च नहीं कर सकते या आम  इन्सान सर्फ़ नहीं कर सकता| डीप वेब एक फिक्स यूआरएल जो जिसको पता हे वह व्यक्ति उसे सर्फ़ करसकता हे | जीतने भी   क्लाउड सर्वर होते वह डीप वेब होते हे|डीप वेब  की जितनी भी वेबसाइट हे  है, जितनी भी इनफार्मेशन   है और जितने भी वेब पेज  हैं वो किसी भी सर्च इंजीन में  मे इंडेक्स  नहीं है | इसमें जिस   confidential data की बात हो रही है वो किसी का भी हो सकता है | उदाहरण के लिए डीप वेब मे जो डाटा स्टोर होता है वो किसी बड़ी कंपनी का हो सकता है , किसीयूनिवर्सिटी  का हो सकता है , किसी  सरकार का हो सकता है , किसी बैंक का डाटा  हो सकता है या फिर किसी और संस्था  का | या बेसिकली कोई भी ऐसी चीज़ जो आपको एक सर्च एंजिन  पे कभी भी नहीं मिल सकती उसको हम  डीप वेब कहेंगे | डीप वेब को “Deepnet”, “The invisible web”, “The Undernet” और “The Hidden web” नाम से भी जाना जाता है |

 

 डार्क वेब

दोस्त डार्क वेब डीप वेब का ही हिसा हे लेकिन  यह सर्फ़ करना इललीगल हे|डार्क वेब   सर्फ़ करते आप पकडे गए तो आपको जेल होती सकती हे | क्युकी यहाँ इललीगल  चीजे  बिकती हे| जेसे ड्रग्स , गैंबलिंग , शूटर हायरिंग , , पोर्नोग्राफी , ह्यूमन ट्रैफिकिंग , आर्म्स वगेरा|यदि आप Dark web को इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपको उसके लिए चाहिए होगा एक Special Browser जिसे हम कहते हैं TOR(The Onion Router) या फिर  —> Tor Browser <— | इस ब्राउज़र  की मदद से आप अपने  आईपी एड्रेस को  छिपा सकते हे मतलब एक तरीके से आप अपनी पहचान को इंटरनेट पर शो  होने से छुपा सकतें हैं और अगर आप Tor Browser को इस्तेमाल करते हैं तो ही आप डार्क वेब  मे कुछ भी  सर्फ़   कर पाएंगे तो  गलती भी डार्क वेव सर्फ़  न करे|

 

 दोस्तों हम उम्मीद करते हैं की अब आपको समझ आ ही गया होगा कीसरफेस ,डीप वेब और डार्क वेब क्या होता है और इसे आपको इस्तेमाल करना चाहिए या नहीं |

 

One comment

Leave a Reply