TikTok ऐप भारत में पूरी तरह से बंद है


टिकटोक ने भारत में काम करना बंद कर दिया है। भारत सरकार ने 29 जून की रात को टिकटोक सहित 59 ऐप को बैन करने का फैसला किया था। इसके बाद लोकप्रिय टिकॉक ऐप्स को Google Play और ऐप स्टोर की लिस्टिंग से भी हटा दिया गया है। हालांकि, जिन यूज़र्स के फोन में यह ऐप पहले से मौजूद था, उनके फोन में यह ऐप बैन होने के बाद भी काम कर रहा है।]लेकिन अब टिकटॉक ने सभी डिवाइस में काम करना बंद कर दिया है, जिसमें डेस्कटॉप वेबसाइट भी शामिल है। ऐप ओपन करने पर यूज़र्स को एक पॉपअप नोटिस दिखता है, जिसमें यूज़र्स को ऐप बैन की जानकारी दी गई है।

टिकटोक ऐप ओपन करने पर अब नेटवर्क एरर नज़र आ रहा है, जिसके साथ एक नोटिस दिया गया है। इस नोटिस में लिखा गया है,)) “प्रिय उपयोगकर्ता, हम 59 ऐप्स को ब्लॉक करने के लिए भारत सरकार के निर्देश का अनुपालन करने की प्रक्रिया में हैं। भारत में हमारे सभी यूज़र्स की गोपनीयता और सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है।” अब इस ऐप में नए रेकमेंडेड वीडियो भी लोड नहीं हो रहे हैं, जिनकी जगह एक नेटवर्क एरर आ रहा है। माना जा रहा है कि यह ब्लॉक कंपनी द्वारा ही किया गया है। इस नोटिफिकेशन को ऐप यूज़र्स के पास पुश नोटिफिकेशन के तौर पर भी भेजा गया था।केवल ऐप ही नहीं, बल्कि यदि आप डेस्कटॉप पर भी टिकटॉक को खोलेंगे, तो पूरी वेबसाइट ब्लैंक दिखेगी। केवल एक नोट यूज़र्स के लिए छोड़ा गया है। इस नोट में बताया गया है, (“)” प्रिय यूज़र्स, भारत सरकार ने 29 जून को टिकटॉक सहित 59 एप्लिकेशन को बैन कर दिया है, जिसमें टिकटॉक भी शामिल है। हम भारत सरकार के निर्देशों का अनुपालन करने की प्रक्रिया में हैं और सरकार के साथ काम कर रहे हैं, ताकि इस मुद्दे को बेहतर ढंग से समझा जा सके और कार्रवाई का एक मार्ग तलाशा जा सके। “

tiktok

टिकटोक इंडिया के प्रमुख निखिल गांधी ने भी पुष्टि की है कि वर्तमान में बैनलाइन को लागू करने की प्रक्रिया चल रही है। कंपनी के प्रतिनिधित्व इस मामले पर चर्चा और अधिसूचना प्रस्तुत करने हेतू सरकारी अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। हालांकि, सूत्रों के बारे में सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद की बैन क्षुधा के अधिकार के साथ कोई बैठक लाइनअप नहीं हुई है।

बाइटडांस के स्वामित्व वाली लघु वीडियो ऐप ने दावा किया है कि उनके लिए यूज़र्स की गोपनीयता और सुरक्षा प्राथमिक है व यूज़र्स के डेटा के साथ किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जाता है। चीनी सरकार इस बाबत को कोई निवेदन भी नहीं मानती, तब भी नहीं।

टिकटोक के अलावा भारत सरकार ने 58 चीनी ऐप्स को बैन किया है, जिसमें ShareIt, UC Browser, Shein, Club Factory, Clash of Kings, Helo, Mi Community, CamScanner, ES File Explorer, VMate जैसे कई ऐप शामिल हैं। सरकार का दावा है कि ये सभी ऐप इस तरह की गतिविधियों में शामिल थे, जिससे देश की संप्रभुता और अखंडता, देश की सुरक्षा और व्यक्तिगत व्यवस्था आदि के लिए खतरा उत्पन्न हो सकता है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: