टिकटोक बैन होने का फायदा ‘इन इंडिया ने’ चिंगारी ऐप को किया, डाउनलोड में आई तेजी


टिकटोक बैन का अब सीधा फायदा ‘मेड-इन-इंडिया’ ऐप्स को मिलने वाला है, जिसका ताजा उदाहरण सोमवार रात को ही देखने को मिल गया है। चिंगारी ऐप, जिसे टिकटॉक का भारतीय वर्ज़न कहा जा रहा है, चीनी-विरोधी भावना के कारण अब तक इस ऐप को Google Play स्टोर पर 25 लाख डाउनलोड मिल चुके थे। लेकिन मूल रूप से देखें तो 29 जून सोमवार रात को देखने को मिला, जब भारत सरकार ने टिकटॉक सहित 59 चीनी ऐप को बैन कर दिया। इसके तुरंत बाद से ही चिंगारी ऐप के दृश्य और डाउनलोड संख्या में उछाल से वृद्धि देखी गई। कंपनी के सह-संस्थापक सुमित घोष ने डेटा साझा करते हुए बताया कि ऐप को हर आधे घंटे में 10 लाख व्यूज़ मिल रहे हैं। उन्होंने बताया कि हर घंटे में उन्हें 1 लाख डाउनलोड मिल रहा है, जिसका असर सर्वर पर भी पड़ रहा है।

सुमित घोष ने की ट्विटर । आदि से टिकटोक बैन के बाद बढ़े हुए चिंगारी उपयोगकर्ता दृश्य की जानकारी दी। उन्होंने स्ट्रीमव्यू ऐप एनालिटिक डेटा साझा करते हुए पुष्टि की कि टिकटॉक बैन के बाद से ही चिनगरी ऐप को हर आधे घंटे में 10 लाख उपयोगकर्ता व्यू मिल रहे हैं। यही नहीं बैन के बाद चिंगारी ऐप के डाउनलोड में भी जबरदस्त इज़ाफ़ा देखा गया, साझा की गई जानकारी के मुताबिक ऐप को 1 घंटे में लगभग 1 लाख डाउनलोड प्राप्त हुए। घोष ने यह भी किया जानकारी दी कि अचानक आई इस बूम के कारण ऐप का सर्वर भी कल रात क्रेश हो गया था।

आपको बता दें, चिंगारी ऐप की गूगल प्ले स्टोर रेटिंग की बात करें, तो यह 5 में से 4.7 स्टार्स हैं। टिकटॉक जैसा शॉर्ट वीडियो और AUD चिंगारी ऐप को बेंगलुरू स्थित दो प्रोग्रामर ने कहा बनाया है, जिसका नाम बिश्वात्मेक और सिद्धार्थ गौतम है। इस ऐप को सबसे पहले Google Play स्टोर पर नवंबर 2018 में देखा गया था, हालांकि इसका एंट्री आईटो पर जनवरी 2019 में हुआ था। यह ऐप डाउनलोड के लिए मुफ्त है और इसका अंतराल काफी हद तक टिकटॉक की तरह ही है। इसके अलावा यह ऐप 10 भाषाओं का सपोर्ट मिलेगा, जिसमें अंग्रेजी, हिंदी, बांग्ला, गुजराती, मराठी, कन्नड़, पंजाबी, मलयालम, तमिल और तेलुगु शामिल हैं। चिंगारी ऐप हर व्यू पर उपयोगकर्ता को पॉइंट्स देता है, जिसके बाद में पैसों में रीडीम किया जा सकता है।टिकटोक के अलावा भारत सरकार ने 58 चीनी ऐप को भारत में बैन किया है, जिसमें ShareIt, UC Browser, Shein, Club Factory, Clash of Kings, Helo, Mi Community, CamScanner, ES File Explorer, VMate जैसे कई अन्य शामिल हैं। सरकार का दावा है कि यह सभी ऐप्स इस तरह की गतिविधियों में शामिल था, जिससे देश की संप्रभुता और अखंडता, देश की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था आदि के लिए खतरा उत्पन्न हो सकता है।

चिंगारी ऐप के अलावा चीन-विरोध भावना का फायद एक और ऐप को मिल रहा है और वह दोस्त हैं ऐप, जो इस्तेमाल में बिल्कुल टिकटॉक की तरह ही है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: